Question: जन्मतिथि से जाने शादी कब होगी?

आपकी शादी कब होगी गूगल?

4/6कब होगी शादी? कुंडली में सप्तम भाव में सप्तमेश बुध हो, वह पाप ग्रह (राहु,केतु, मंगल, शनि) से दृष्ट या उनके साथ नहीं हो तो ऐसे में विवाह 13 से 18 साल की आयु में हो जाती है। आज के समय के हिसाब से बात करें तो 22 वर्ष तक शादी होने की प्रबल संभावना रहती है।

विवाह योग कब बनता है?

अगर लग्न, सप्तम भाव, लग्नेश और शुक्र चर स्थान में स्थित हों तथा चन्द्रमा चर राशि में स्थित हों तो ऎसे व्यक्ति का विवाह विलम्ब से होने के योग बनते है। इसके अतिरिक्त जब शनि और शुक्र लग्न से चतुर्थ भाव में हों तथा चन्द्रमा छठे, आठवें या बारहवें भाव में हों तो व्यक्ति का विवाह तीस वर्ष के बाद होने की संभावना बनती है।

कुंडली में विवाह योग कैसे देखते हैं?

जिस वर्ष शनि और गुरु दोनों सप्तम भाव या लग्न को देखते हों, तब विवाह के योग बनते हैं। सप्तमेश की महादशा-अंतर्दशा या शुक्र-गुरु की महादशा-अंतर्दशा में विवाह का प्रबल योग बनता है। सप्तम भाव में स्थित ग्रह या सप्तमेश के साथ बैठे ग्रह की महादशा-अंतर्दशा में विवाह संभव है।

कुंडली में विवाह का योग कब बनता है?

अगर लग्न, सप्तम भाव, लग्नेश और शुक्र चर स्थान में स्थित हों तथा चन्द्रमा चर राशि में स्थित हों तो ऎसे व्यक्ति का विवाह विलम्ब से होने के योग बनते है। इसके अतिरिक्त जब शनि और शुक्र लग्न से चतुर्थ भाव में हों तथा चन्द्रमा छठे, आठवें या बारहवें भाव में हों तो व्यक्ति का विवाह तीस वर्ष के बाद होने की संभावना बनती है।

कुंडली में विवाह योग कैसे देखें?

जिस वर्ष शनि और गुरु दोनों सप्तम भाव या लग्न को देखते हों, तब विवाह के योग बनते हैं। सप्तमेश की महादशा-अंतर्दशा या शुक्र-गुरु की महादशा-अंतर्दशा में विवाह का प्रबल योग बनता है। सप्तम भाव में स्थित ग्रह या सप्तमेश के साथ बैठे ग्रह की महादशा-अंतर्दशा में विवाह संभव है।

कुंडली में विवाह योग कब बनता है?

अगर लग्न, सप्तम भाव, लग्नेश और शुक्र चर स्थान में स्थित हों तथा चन्द्रमा चर राशि में स्थित हों तो ऎसे व्यक्ति का विवाह विलम्ब से होने के योग बनते है। इसके अतिरिक्त जब शनि और शुक्र लग्न से चतुर्थ भाव में हों तथा चन्द्रमा छठे, आठवें या बारहवें भाव में हों तो व्यक्ति का विवाह तीस वर्ष के बाद होने की संभावना बनती है।

मेष राशि का विवाह का योग कब बन रहा है?

मेष राशि - मेष राशि वालों के लिए साल 2021 का साल शुभ है. साल की शुरूआत में ही विवाह संबंधी शुरू समाचार मिलेगा. मेष राशि वालों की शादी के योग अच्छे माने जा रहे है. ज्योतिषों का कहना है की मेष राशि वाले ऐसे लोग जो कई दिनों से अपने जीवनसाथी की तलाश कर रहे है, उनकी तलाश साल 2021 में खत्म हो जाएगी.

मेष राशि वाले दुखी क्यों रहते हैं?

ये ऐसे व्यक्ति से प्रेम में पड़ते हैं जो इन्हें अच्छे से समझता हो और इन्हें बहुत प्यार करता हो। जब ये अपने प्रेमी से संतुष्ट नहीं होते हैं, तब ये बहुत ही दुखी या नाराज़ और रूठे से रहते हैं। प्रेम कम मिलने के कारण ये टूट से जाते हैं और इसीलिए अक्सर इन लोगों को चिंता में देखा जाता है।

Say hello

Find us at the office

Hostler- Pertzborn street no. 57, 67563 Kigali, Rwanda

Give us a ring

Anterio Ruebush
+29 780 790 988
Mon - Fri, 8:00-17:00

Contact us